नेपाल के प्रधानमंत्री ने एक बार फिर दिया विवादित बयान…”भगवान राम नेपाली हैं, भारतीय नहीं.”

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है.इस बीच उन्होंने भगवान राम को लेकर इस बात का दावा किया है कि भगवान राम नेपाली थे. ओली ने कहा कि असली अयोध्या नेपाल में है, न की भारत में. उन्होंने कहा, ”भगवान राम नेपाली हैं, भारतीय नहीं.” ओली ने अपने निवास पर भानु जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि विज्ञान के लिए नेपाल के योगदान को हमेशा नजरंदाज किया गया.

नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने भारत पर सांस्कृतिक अतिक्रमण का आरोप लगाया. बता दें कि ओली पहले कह चुके हैं कि भारत उनको सत्ता से हटाने की साजिश रच रहा है.नेपाली मीडिया के हवाले से सोमवार को समाचार एजेंसी ANI ने यह जानकारी दी।

ओली के इस दावे पर नेपाल में राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी के नेता और पूर्व उप प्रधानमंत्री कमल थापा ने विरोध जताया है. उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा कि, ”किसी भी प्रधानमंत्री के लिए इस तरह का आधारहीन और अप्रामाणित बयान देना उचित नहीं है. ऐसा लगता है कि पीएम ओली भारत और नेपाल के रिश्ते और बिगाड़ना चाहते हैं, जबकि उन्हें तनाव कम करने के लिए काम करना चाहिए.”

भारतीय टीवी चैनलों पर लगाई थी रोक

बता दें पिछले दिनों नेपाल में दूरदर्शन को छोड़कर भारतीय टीवी चैनलों पर पाबंदी लगा दिया गया था। नेपाल का आरोप था कि भारतीय चैनल पीएम ओली की छवि ख़राब कर रहे हैं। लेकिन बाद में यह रोक हटा ली गई। नेपाल ने भारत में अपने राजदूत के जरिए यह मांग की कि ऐसे टीवी चैनलों के खिलाफ कार्रवाई की जाए जो पीएम ओली की छवि को खराब कर रहे हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: