जानिए, यूरोप के कौन-से देश ने कोरोना के खिलाफ दर्ज की अपनी पहली जीत

वैश्विक महामारी कोरोना से दुनियाभर के देश पीड़ित है। अब तक 70 लाख से अधिक लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। मार्च के महीने में जब कोरोना ने यूरोप के देशों में अपना प्रकोप शुरू किया तो इटली, स्पेन, फ्रांस जैसे देश इस महामारी से सबसे ज्यादा पीड़ित हैं। पर अब धीरे-धीरे दुनिया के कई देश इस महामारी के खिलाफ लड़ते हुए आगे बढ़ रहे हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मेक्रों ने आज राष्ट्र के नाम पर अपने संबोधन में देशभर में कई छूट दी जिसमें बॉर्डर खोलने से लेकर रेस्टोरेंट तक को खोलने की इजाजत दी गई।

The Gazette Today India - जानिए, यूरोप के कौन-से देश ने कोरोना के खिलाफ दर्ज की अपनी पहली जीत
प्रतीकात्मक फोटो

फ्रांस में पिछले कई दिनों से कोरोना महामारी के आंकड़ों में कमी आ रही थी जिसको देखते हुए राष्ट्रपति इमैनुअल मेक्रों ने यह निर्णय लिया कि देश को अब धीरे-धीरे सामान्य स्थिति में लाया जाए इसके लिए उन्होंने राष्ट्र के नाम संबोधन में कुछ घोषणाएं की।

फ्रांस में अब रिओपनिंग

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों संबोधन में बताया कि 22 जून से नर्सरी, प्राइमरी और जूनियर हाई स्कूल खोले जाएंगे। इन सभी स्कूलों में उपस्थिति देनी होगी। यूरोप के प्रवासियों के लिए देश के बॉर्डर को खोल दिया गया है जबकि अन्य देशों से आने वाले यात्रियों को 1 जुलाई से अनुमति दी जाएगी। पेरिस के सभी रेस्टोरेंट्स को खोलने की इजाजत दे दी गई है। हालांकि फ्रांस में 1 मई से ही सामान्य गतिविधियां धीरे-धीरे चालू हो गई थीं।

The Gazette Today India - जानिए, यूरोप के कौन-से देश ने कोरोना के खिलाफ दर्ज की अपनी पहली जीत
प्रतीकात्मक फ़ोटो

फ्रांस में स्पेन और इंग्लैंड के यात्रियों को क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा गया है, जबकि अमेरिका और एशिया महाद्वीप के देशों के यात्रियों को फ्रांस में आने की अभी अनुमति नहीं दी गई है।

फ्रांस के राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में आगे कहा कि “कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है, लेकिन इसके खिलाफ पहली जीत की मुझे खुशी है।”

The Gazette Today India - जानिए, यूरोप के कौन-से देश ने कोरोना के खिलाफ दर्ज की अपनी पहली जीत
प्रतीकात्मक फ़ोटो

अप्रैल के महीनों में फ्रांस दुनियाभर के टॉप 5 देशों में शामिल था जहां कोरोना का सबसे ज्यादा प्रकोप था। लेकिन अब धीरे-धीरे वहां मामलों में कमी आ रही है। ‘वर्ल्डमीटर’ डाटा के मुताबिक जून के महीनों में रोजाना 700 से भी कम की औसत से कोरोनाे के केस आ रहे हैं, जबकि मरने वालों की संख्या प्रतिदिन औसतन 20 की है। वर्तमान में फ्रांस में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 55 हज़ार तक है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: