भारत के इस रेलवे स्टेशन का नाम उर्दू के बजाय संस्कृत में लिखा गया

उत्तराखंड के देहरादून रेलवे स्टेशन का जीर्णोद्धार करने की कवायद की जा रही है। पिछले कई महीनों से इस रेलवे स्टेशन के पुनर्निर्माण का कार्य किया जा रहा है।हाल ही में एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है जिसमें यह देखा जा सकता है कि भारत के प्रमुख हिल स्टेशनों में से एक देहरादून रेलवे स्टेशन की नाम पट्टिका पर उर्दू के स्थान पर संस्कृत में देहरादूनम‌् लिखा गया है।

भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक तस्वीर को ट्वीट करते हुए अंग्रेजी के बड़े बड़े अक्षरों में ‘SANSKRIT’ शब्द लिखते हुए रेलवे स्टेशन के नाम पट्टिका की फोटो अपने ट्विटर हैंडल पर ट्वीट की।

बता दें, कि भारतीय रेल हिंदी और अंग्रेजी के अलावा राज्य को अपनी राजकीय भाषा में रेलवे स्टेशन के नाम को नाम पट्टिका पर अंकित करने की छूट देता है। जनवरी 2020 में उत्तराखंड में अपनी राजकीय भाषा के रूप में संस्कृत को अपनाया है इसी कड़ी में उत्तराखंड सरकार ने देहरादून रेलवे स्टेशन पर हिंदी अंग्रेजी के साथ उर्दू के स्थान पर संस्कृत में देहरादूनम‌् लिखा गया।

रेलवे स्टेशन का उर्दू के स्थान पर संस्कृत में नाम लिखना इसकी कई लोग तारीफ कर रहे हैं तो आलोचकों की भी कमी नहीं है। इससे पहले वर्ष 2019 में हिमाचल प्रदेश ने अपनी दूसरी राजकीय भाषा के रूप में संस्कृत को अपना चुका है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: