मणिपुर में कांग्रेस लाई है एनडीए सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव, फ्लोर टेस्ट आज

मणिपुर विधानसभा को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है। मणिपुर विधानसभा में आज फ्लोर टेस्ट आयोजित किया जाएगा। फ्लोर टेस्ट को लेकर भाजपा और कांग्रेस ने अपने-अपने विधायकों को विधानसभा में हाजिर होने के लिए व्हिप जारी किया है। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह(N Biren Singh) द्वारा विधानसभा में विस्ताव प्रस्ताव लाया गया है। इस पर वोटिंग के लिए आज विधानसभा में फ्लोर टेस्ट कराया जाएगा। आज विधानसभा के एक दिवसीय विशेष सत्र के दौरान फ्लोर टेस्ट कराया जाएगा।

दरअसल, मणिपुर में लंबे समय से राजनीतिक खींचतान चल रही है. कुछ विधायक और मंत्री बीजेपी के गठबंधन वाली सरकार से बगावत कर गए थे. लेकिन इस घटना ने राज्य की राजनीति को बड़ा तूल दे दिया. इसके अलावा ड्रग केस में बीजेपी नेता का नाम आने पर भी राजनीतिक बवाल मच गया. विपक्षी कांग्रेस भी एक्टिव हो गई और 28 जुलाई को विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लेकर आई.

कांग्रेस का आरोप है कि हाई प्रोफाइल ड्रग केस की जांच सीबीआई को सौंपने की विपक्ष की मांग सरकार ने नहीं मानी क्योंकि इसमें बीजेपी नेता का नाम आ रहा है.

इस बीच कांग्रेस ने अपने 24 विधायकों को आज एक दिवसीय विधानसभा सत्र में शामिल होने और बीजेपी नीत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में मतदान करने के लिए व्हिप जारी किया है। 

गौरतलब है कि राज्य में भाजपा के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार पर  छह विधायकों के हटने के बाद 17 जून को राजनीतिक संकट गहरा गया।  तीन भाजपा विधायकों ने पार्टी छोड़ दी और कांग्रेस में शामिल हो गए। हालांकि, बाद में भाजपा नेताओं और मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा समेत शीर्ष नेताओं के हस्तक्षेप के बाद चार नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के विधायक गठबंधन में लौटे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: