केजरीवाल सरकार ने कोरोना संकटकाल में केंद्र से मांगी तत्काल मदद-

कोरोना संकटकाल में केंद्र सरकार से केजरीवाल सरकार ने तत्काल मदद मांगी है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार केंद्र से 5000 करोड़ रुपए की राशि की सहायता चाहती है ,जिससे वो कर्मचारियों को वेतन दे सके।

मीडिया को संबोधित करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि उन्हें ये पैसे दिल्ली के कर्मचारियों का वेतन देने समेत अन्य ख़र्चों के लिए चाहिए. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि ‘मैंने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को चिट्ठी लिखकर दिल्ली के लिए 5 हज़ार करोड़ रुपए की राशि की मांग की है.’ जिससे कोरोना संकटकाल में काम कर रहे कोरोना योद्धाओं को वेतन दिया जा सके।

उन्होंने आगे लिखा कि, ‘कोरोना व लॉकडाउन की वजह से दिल्ली सरकार का टैक्स कलेक्शन क़रीब 85% नीचे चल रहा है. केंद्र की ओर से बाक़ी राज्यों को जारी आपदा राहत कोष से भी कोई राशि दिल्ली को नहीं मिली है.’

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार को अपने कर्मचारियों के वेतन और अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिए हर महीने 3,500 करोड़ रुपये की आवश्यकता पड़ती है। पिछले दो महीनों में जीएसटी संग्रह प्रति महीने केवल 500 करोड़ रुपये का हुआ है। हमें अपने कर्मचारियों का वेतन देने के लिए लगभग 7000 करोड़ रुपए की जरूरत है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: