सुशांत केस में महाराष्ट्र सरकार ने SC में दाखिल किया जवाब, किया CBI जांच का विरोध

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले में महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को रिया चक्रवर्ती की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल किया। महाराष्ट्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई जांच का विरोध करते हुए कहा की सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में बिहार सरकार का सीबीआई जांच की सिफारिश करना उचित नहीं था। केंद्र सरकार का बिहार की अनधिकृत सिफारिश मानना केंद्र-राज्य संबंधों की संवैधानिक मर्यादा के खिलाफ है। महाराष्ट्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में सील बंद लिफाफे में जांच की प्रगति रिपोर्ट दाखिल की। महाराष्ट्र सरकार ने बिहार सरकार पर आरोप लगाए और कहा कि इस मामले में बिहार सरकार ने नियमों के खिलाफ जा कर काम किया।

महाराष्ट्र सरकार के अलावा सुशांत के पिता केके सिंह ने भी अपना जवाब सुप्रीम कोर्ट में दाखिल कर दिया है। अपने जवाब में सुशांत के पिता ने आरोप लगाया कि रिया गवाहों को प्रभावित कर रही हैं। उन्होंने कहा कि रिया चक्रवर्ती द्वारा दायर याचिका प्रभावहीन है, क्योंकि अब इस मामले की जांच अब सीबीआई कर रही है. उन्होंने कहा कि अपने बयानों और वीडियो में जब रिया खुद सुशांत केस की जांच सीबीआई से कराने की मांग कर चुकी हैं तो अब सीबीआई जांच से परहेज क्यों? दोनों पक्षों की दलीले सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अगली सुनवाई तक के लिए इसे टाल दिया है।  

बता दें कि बिहार सरकार की तरफ से सुशांत सिंह मामले में सीबीआई जांच की सिफारिश का महाराष्ट्र सरकार और शिवसेना विरोध शुरू से कर रही है। शिवसेना की राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा था कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राजनीति कर रहे हैं। उनकी सिफारिश संवैधानिक वैधताओं या सुशांत को न्याय दिलाने के लिए नहीं है। कानून व्यवस्था राज्य का विषय है, सीबीआई जांच का निर्णय सिर्फ महाराष्ट्र सरकार ले सकती है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: