भोपाल: मास्‍क नहीं पहना तो करना पड़ेगा ये काम…प्रशासन ने लिया फैसला-

कोरोना का प्रकोप तेज़ी से बढ़ रहा है। देश में लगातार कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है.मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में रविवार को 102 नए कोरोना मरीज़ मिले हैं ये अभी तक का एक दिन का सबसे बड़ी संख्या है. इससे एक दिन पहले 95 मरीज मिले थे. शहर में अब तक कोरोना के 3823 मामले सामने आ गए हैं बता दें शहर के हर अलग- अलग हिस्से में कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिल रहे हैं.

इस वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोग मास्क पहनने से लेकर सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं. लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो नियमों को तोड़ते हुए नज़र आ रहे हैं, कोरोना संकटकाल में जब कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती हुई नजर आ रही है इस बात को  ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने फैसला किया है, जो मास्क नहीं पहनेगा, नियम तोड़ेगा उससे बतौर कोरोना वॉरियर  सेवाएं ली जाएंगी.बता दें कुछ दिनों पहले ऐसा ही निर्णय ग्वालियर में लिया गया था.

कोरोना जैसी खतरनाक वायरस से बचने के लिए मध्‍य प्रदेश की राजधानी में भोपाल में सड़को के बीच ‘यमराज’ के वेशभूषा में कोरोना योद्धा लोगों को चेतावनी दे रहे हैं की लोग नियमों का पालन करें और मास्‍क पहनें , लेकिन कुछ लोग नियम तोड़कर भी बेशर्मी दिखा रहे हैं.

यमराज’ का वेश में अविनाश चौहान ने कहा कि मैं लोगों को समझा रहा हूँ , घर से निकलने से पूर्व मास्क का प्रयोग करें. जिससे वो कोरोना वायरस से अपना बचाव खुद भी करेंगे रऔर दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे. उन्‍होंने कहा, ‘यमराज’ के रूप में जब लोगों को सलाह देता हूं तो कई लोग डरते हैं, कुछ सुनते भी हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए सख्‍ती बरतते हुए जगह-जगह पुलिस लोगों की चेकिंग कर रही हैं. उनके साथ सड़क पर स्‍वयंसेवी भी हैं, सबकी कोशिश यही है की लोग इस संक्रमण से बचाव के लिए सभी नियमों का पालन करें।

The Gazette Today India - भोपाल: मास्‍क नहीं पहना तो करना पड़ेगा ये काम...प्रशासन ने लिया फैसला-
प्रतीकात्मक तस्वीर

सूबेदार विनायक सोनी ने जानकारी देते हुए कहा कि दिनभर में हम बिना मास्क के 10-12 चालान बना रहे हैं, कैमरे से भी लोगों के चालान काटे जा रहे हैं. ‘आवाज़’ के निदेशक प्रशांत दुबे ने कहा ‘हम लोग ऐसे लोगों को, जो मास्क नहीं लगा रहे हैं, समझा रहे हैं,उन्होंने बताया भोपाल में 30-40 फीसदी लोग मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं.ऐसे लोगों को मास्क उपलब्ध करवा रहे हैं, बढती लापरवाही को मद्देनजर रखते हुए सख्‍ती के साथ प्रशासन अब उन दुकानदारों पर कार्रवाई भी करेगा जिनके यहां सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया जा रहा है, उन्हें भी कोरोना वॉरियर्स के रुप में सेवा देनी पड़ सकती है. भोपाल कलेक्‍टर अविनाश लवानिया ने कहा, ‘उस दिन के व्यक्ति को कोरोना वारियर्स की ड्यूटी में शामिल किया जाएगा और उस दुकान को 3 दिन के लिये बंद कर दिया जाएगा.उन्होंने कहा ये दोनों दंड एक साथ भी दे सकते हैं.

साथ ही बताते चलें कि राज्य में प्रत्येक रविवार को तो अब लॉकडाउन की घोषणा कर ही दिया गया है. सूत्रों के अनुसार जिन इलाकों में कोरोना का संक्रमण के मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं, वहां कंटेनमेंट जोन घोषित कर तीन-चार दिनों के लिए लॉकडाउन भी किया जा सकता है.जिन दुकानों में कोविड एसओपी का पालन नहीं किया जा रहा है उन दुकानों को सील भी किया जा सकता है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: