दूसरे विश्व युद्ध के बाद की स्थिति का क्या फिर से सामना करेगा भारत

पूरा विश्व अभी कोरोना वायरस की चपेट से निकला नहीं, वही अब दूसरी मुसीबत दरवाज़े पे दस्तक दे रही है,वही इस चुनौती का सामना न केवल भारत को करना पड़ रहा है बल्कि पूरा अब धीरे-धीरे इसकी चपेट में आ रहा है। बता दें कि यह चुनौती कुछ और नहीं बल्कि अर्थव्यवस्था है।

आपको बता दें कि वर्ल्ड बैंक ने सोमवार को कहा कि लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था में 5.2% गिगिरावट आ सकती है,संगठनों के अनुसार साल 2020-21 में भारत अर्थव्यवस्था में 3.2% का गिरावट आ सकता है। प्रॉस्पेक्टस ग्रुप का कहना है, कोरोना वायरस के लॉकडाउन के बाद की मन्दी विकसित देशों में दूसरे विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी मंदी होगी।

आइए जानते हैं वो परिणाम से लॉकडाउन के बाद भारत में एवं कई विकसित देशों में भी दिखाई देता है

लॉलॉकडाउन के बाद भारत को मंगाई, भुखमरी, ग़रीबी, का सामना करना पड़ेगा बेरोज़गारी पर भी इसका प्रभाव पढ़ेगा। इतना ही नहीं बल्कि राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था पर भी इसका भारी मात्रा में प्रभाव पड़ सकता है।

One thought on “दूसरे विश्व युद्ध के बाद की स्थिति का क्या फिर से सामना करेगा भारत

Leave a Reply

%d bloggers like this: