महाराष्ट्र के 7 वीं कक्षा के छात्र ने बनाया कॉन्टैक्ट लेस रोबोट-

कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से पूरा देश लड़ रहा है, हमारे देश के कोरोना योद्धा पुलिकर्मी, स्वास्थ्यकर्मी,पत्रकार और बहुत से लोग जो इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए अपना पूरा योगदान दे रहे हैं । महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक सातवीं कक्षा के बच्चे ने रोबोट बनाया है, जो बिना किसी के संपर्क में आए दवाइयों और खाने की डिलिवरी करेगा।

आपको बता दें कि इस बच्चे का नाम साई सुरेश है ।जो महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहने वाला है। साई सुरेश ने रोबोट के बारे में बताया कि इस रोबोट को बैटरी व स्मार्ट फोन से नियंत्रित किया जा सकता है।

साई सुरेश ने कहा कि देश में कोरोना के मरीजों की लगातार संख्या बढ़ते देखते हुए उसको फैलने से रोकने के लिए मैंने यह रोबोट बनाया है। उसने बताया कि यह रोबोट एक किलो तक का भार उठा सकता है।
इस रोबोट के मदद से कोरोना संक्रमित व्यक्तियों को भोजन व दवाएं दी जा सकती हैं । जिससे किसी अन्य व्यक्ति को कोरोना मरीजों के सम्पर्क में रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी ।

Leave a Reply

%d bloggers like this: