कोरोना पर असरदार साबित इस दवा की कीमत है मात्र 30 पैसे, भारत में है बड़ा भंडार

कोरोना महामारी के दौर में दुनिया भर के डॉक्टर और वैज्ञानिक इस महामारी का काट ढूंढने में लगे हुए हैं। ब्रिटेन में 2104 कोरोना मरीजों पर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने डेक्सामीथेसोन दवा का क्लिनिकल ट्रायल किया जिसके काफी चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं। शोधकर्ताओं ने पाया कि इस दवा का वेंटिलेटर पर मौजूद मरीज पर उपयोग करने से मौत के आंकड़ों में एक तिहाई तक की कमी आई है।

The Gazette Today India - कोरोना पर असरदार साबित इस दवा की कीमत है मात्र 30 पैसे, भारत में है बड़ा भंडार
गेट्टी इमेज

कोरोना महामारी में रामबाण साबित हुई इस दवा का भारत में काफी बड़ा भंडार है।भारत इस दवा का दुनिया के 107 देशों में निर्यात करता है। भारत में इस दवा के 20 ब्रांड हैं। देश में इस दवा की 10 टेबलेट की स्ट्रिप मात्र 3 रुपए में आती है इस हिसाब से एक गोली की कीमत केवल 30 पैसे है।

डेक्सामीथेसोन का उपयोग एलर्जी, दमा, चर्म रोग आंखों और मसूड़ों की सूजन, क्रोनिक, ऑब्सट्रक्टिव लंग डीज़ीज़ के लिए किया जाता है। यह एक स्टेरॉयड है, जिसे डॉक्टर की देखरेख में दिया जाता है। दवा कंपनियां इसे टेबलेट, इंजेक्शन और ओरल ड्रॉप्स के रूप में बनाती हैं।

The Gazette Today India - कोरोना पर असरदार साबित इस दवा की कीमत है मात्र 30 पैसे, भारत में है बड़ा भंडार
गेटी इमेज

भारत में बनने वाली इस दवा को विश्व स्वास्थ्य संगठन की मान्यता प्राप्त है। भारत से यह दवा दुनिया के 107 देशों में भेजी जाती है जिसकी सालाना कीमत लगभग 100 करोड़ से अधिक है। भारत इन दवाइयों का लगभग 65% केवल अमेरिका, नाइजीरिया, कनाडा, रूस और युगांडा इन 5 देशों को निर्यात करता है।

ब्रिटेन में हुए कोरोना मरीजों पर डेक्सामीथेसोन के ट्रायल पर एक्सपर्ट्स का मानना है कि अभी से इस दवा की क्षमता का आकलन करना सही नहीं है, पर ट्रायल से जो परिणाम सामने आए हैं, भी बेहद सकारात्मक हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: