15 जुलाई के बाद इन गाइडलाइंस के मुताबिक खुल सकते हैं स्कूल व कॉलेज

भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया आज इस जानलेवा वायरस यानी कोविड-19 से लड़ रहा है। वही मानव के स्वास्थ्य के साथ ही इस वायरस का असर छात्रों की पढ़ाई पर भी पड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। अब ऐसे में सवाल खड़े होते ही सरकार द्वारा कब और किन सावधानियों को ध्यान में रखते हुए स्कूल और कॉलेज खोलने की अनुमति दी जाएगी। आपको बता दें कि इसी संदर्भ में मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से सोमवार को बुलाई गई बैठक में ज्यादातर राज्यों ने स्कूलों के खोलने की योजना को अगले दो महीने तक और स्थगित रखने का सुझाव दिया है। वही तकरीबन सत्तर फीसद स्कूल को क्वारेंटीन सेंटर बनाने का बात भी बताई। ऐसे में मंत्रालय ने संकेत दिए है कि स्कूलों के खोलने को लेकर कोई भी फैसला 15 जुलाई के बाद ही लिया जाएगा। इतना ही नहीं बल्कि सभी स्कूल और कॉलेजों को केंद्र सरकार की जारी गाइडलाइन के मुताबिक ही खोला जाएगा

जानें केंद्र सरकार की गाइडलाइन

कोरोना वायरस के कहर को रोकने हेतु स्कूल और कॉलेज की हर क्लास रूम में एक सेनिटाइजर और इसके साथ ही प्रत्येक बच्चे के पास मॉसक होना अनिवार्य होगा। वही हर क्लास के बाद एक दस मिनट का ब्रेक दिया जाएगा। जिसमें हर बच्चे को अपना हाथ साबुन से धोना होगा, इसका विशेष ख्याल शिक्षकों द्वारा रखा जाएग।

आपको बता दें कि कुछ राज्यों ने अपने स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने की मांग सरकार से की है। वहीं दूसरी ओर कुछ राज्य ऐसे भी हैं जिन्होंने विषय कम करने की मांग की। परंतु कुछ राज्यों ने इससे इनकार भी किया, साथ ही आपको बताते चलें कि वही कुछ राज्यों का ये भी कहना है कि स्कूल और कॉलेज विषेश सुविधाओं के साथ खोला जाना चाहिए।

Leave a Reply

%d bloggers like this: