PMC के खाताधारकों के लिए आई है, एक अच्छी और एक बुरी खबर

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के प्रतिबंधों को झेल रहे पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के ग्राहकों के लिए एक अच्छी और बुरी खबर सामने आई है। आरबीआई ने पीएमसी पर लगे प्रतिबंधों को 6 माह तक बढ़ा दिया है वहीं दूसरी ओर पीएमसी के ग्राहकों को राहत देते हुए कैश निकालने की लिमिट को बढ़ाकर 1 लाख कर दिया गया है। आरबीआई के इस फैसले से पीएमसी के 84% ग्राहकों को लाभ मिलेगा।

The Gazette Today India - PMC के खाताधारकों के लिए आई है, एक अच्छी और एक बुरी खबर
गेटी इमेज

बता दें, कि सितंबर 2019 में आरबीआई ने पीएमसी पर 6 माह का प्रतिबंध लगाया था, जो कि इस वर्ष मार्च महीने में पूरा हो गया। इसके बाद आरबीआई ने 22 मार्च को प्रतिबंध पूरा होने से ठीक कुछ दिन पहले ही इस प्रतिबंध को 3 महीने के लिए और आगे बढ़ाते हुए जून तक कर दिया था। अब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया नेम पीएमसी बैंक पर लगे प्रतिबंधों को 6 माह तक बढ़ाते हुए अगली डेडलाइन 22 दिसंबर 2020 है।

The Gazette Today India - PMC के खाताधारकों के लिए आई है, एक अच्छी और एक बुरी खबर
गेटी इमेज

क्या है पूरा मामला

दरअसल, पीएमसी पर नियमों के उल्लंघन का आरोप है। पीएमसी बैंक के मैनेजमेंट ने नियमों को ताक पर रखते हुए हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर (HDIL) लोन दिया था। बैंक नहीं है कर्ज HDIL ऐसे समय में दिया जब वह दिवालिया होने के कगार पर थी। वहीं पीएमसी ने बैंकों को रेगुलेट करने वाली आरबीआई को इस मामले में गुमराह भी किया है। इसका खुलासा होते ही आरबीआई ने पीएमसी बैंक पर प्रतिबंध लगाए थे।

The Gazette Today India - PMC के खाताधारकों के लिए आई है, एक अच्छी और एक बुरी खबर
गेटी इमेज

प्रतिबंध लगाने के शुरुआती दौर में ग्राहकों को 1 दिन में केवल 1 हज़ार रुपए की इजाजत थी ग्राहकों पर बढ़ती समस्या को देखते हुए इस छूट को 50 हज़ार रुपए पहले ही कर दिया गया था। अब पैसे निकालने की छूट जब 1 लाख रुपए प्रतिदिन हुई है तो इससे पीएमसी के ग्राहकों को बड़ी राहत मिलेगी। जब से यह प्रतिबंध लगा है, तभी से पीएमसी के ग्राहकों को रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए मुसीबतों का सामना करना पड़ा है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: