ICC के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए PM मोदी ने उद्योग जगत को दिया मंत्र, PM के मंत्र से क्या दौड़ेगी अर्थव्यवस्था?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कोलकाता में हो रहे इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स (ICC) के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित किया। PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि ” 95 साल से ICC देश की सेवा कर रहा है, आज के वक्त में देश का आत्मनिर्भर होना जरूरी है, हमें दूसरे देशों पर अपनी निर्भरता कम करनी होगी।”

आत्मनिर्भर भारत योजना पर दिया जोर

PM मोदी ने अपने संबोधन में आत्मनिर्भर भारत को लेकर कहा कि “आज जो चीजें हमें विदेशों से मंगवानी पड़ती है, हमें विचार करना होगा की वह हमारे देश में कैसे बने फिर कैसे हम उसका निर्यात करें। वक्त है कि लोकल के लिए वोकल हुआ जाए। आत्मनिर्भर भारत के लिए बड़े रिफॉर्म का ऐलान हुआ है, अब उन्हें जमीन पर उतारा जा रहा है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि “आज कोई भी कंपनी सीधे PMO अपने सामान या प्रपोजल को पहुंचा सकती है। लोगों को GEM से जुड़ना होगा ताकि देसी कंपनियों का सामान सरकार भी खरीद सके।”

लोकल प्रोडक्ट के लिए क्लस्टर के आधार पर मजबूती दी जा रही है। नॉर्थ-ईस्ट को ऑर्गेनिक खेती का हब बनाने की कोशिश की जा रही है। अगर ICC ठान ले तो इसकी ग्लोबल पहचान बना सकते हैं।”

The Gazette Today India - ICC के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए PM मोदी ने उद्योग जगत को दिया मंत्र, PM के मंत्र से क्या दौड़ेगी अर्थव्यवस्था?
प्रतीकात्मक फ़ोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ICC की तारीफ करते हुए कहा कि “5 साल के बाद आपकी संस्था के 100 साल पूरे हो जाएंगे देश के विकास यात्रा में आपका अहम योगदान रहा है। 2022 में देश के आजादी के 75 साल पूरे हो रहे हैं। वक्त है कि एक बड़ा संकल्प लिया जाए और आत्मनिर्भर भारत अभियान को पूर्ण करने के लिए कुछ लक्ष्य तय किए जाएं।”

पीएम ने कहा, समय ले रहा है परीक्षा

संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “इस साल की बैठक ऐसे वक्त में हो रही है जब देश कई मुश्किलों को झेल रहा है। आज देश में कोरोना वायरस है, टिड्डी की चुनौती है, आग लग जा रही है तो रोज भूकंप भी आ रहे हैं, इसी बीच दो साइक्लोन भी आए हैं। कभी-कभी समय भी हमारी परीक्षा लेता है।

The Gazette Today India - ICC के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए PM मोदी ने उद्योग जगत को दिया मंत्र, PM के मंत्र से क्या दौड़ेगी अर्थव्यवस्था?
प्रतीकात्मक फ़ोटो

देश में जब से कोरोना संकट छाया हुआ है, तब से प्रधानमंत्री मोदी लगातार संबोधन दे रहे हैं। शुरुआत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दो संबोधन में लॉकडाउन की घोषणा स्वयं की थी। इसके साथ-साथ मन की बात कार्यक्रम में भी देश को आत्मनिर्भर बनाने के संकल्प को दोहराया। देश में होने वाले अलग-अलग कार्यक्रमों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल मीटिंग के द्वारा संबोधन दिया है।

The Gazette Today India - ICC के 95 वें सालाना कार्यक्रम को संबोधित करते हुए PM मोदी ने उद्योग जगत को दिया मंत्र, PM के मंत्र से क्या दौड़ेगी अर्थव्यवस्था?
प्रतीकात्मक फोटो

इस समय अर्थव्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। धीरे-धीरे देश के कई हिस्से अब अनलॉक-1 के तहत खुल रहे हैं, ताकि व्यवसायिक गतिविधियां हों सके। देश की अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकने के लिए सरकार ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है, साथ ही आत्मनिर्भर भारत का मूल मंत्र भी लोगों को दिया है। इन हालातों में अब आगे देखना होगा कि सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किस प्रकार राह दिखाते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: