अर्थव्यवस्था बचाने के लिए टेलीकॉम कंपनियों का नया कदम

इस महामारी के वक़्त जहां एक ओर कंपनियां बंद की जा रही है, बड़े-बड़े दफ्तरों में ताला लग रहा है वहीं दूसरी ओर कुछ विदेशी कंपनियां भारत आने की तैयारी में जुट गई है। आख़िर कहां से आ रही है ये कंपनियां, क्या है इन कंपनियों के भारत आने के पीछे का कारण आइए जानते हैं आख़िर क्यों विदेशी कंपनी दस्तक दे रही है भारत में?

गौरतलब है कि दिग्गज टेक कम्पनी भारत आकर टेलीकॉम मार्केट के लिए तैयार खड़ी है, इसका सबसे बड़ा सबूत भारत का रिलायंस कंपनी है, 6 शीर्ष टेक निवेशक 92,202.15 करोड़ रुपये निवेश कर चुके हैं। केवल रिलायंस ही नहीं एयरटेल, वोडाफ़ोन जैसी कम्पनियां भी योजनाएं बना रही है। एयरटेल 15,000 करोड़ वोडाफ़ोन एवं आइडिया 32.7 करोड़ अभीभोक्ता है।

जानकारी के मुताबिक मुताबिक़ ये केवल कंपनियों को ही नहीं बल्कि भारत सरकार एवं भारत की अर्थव्यवस्था के लिए भी उपयोगी माना जा रहा है। आपको बता दें कि विदेशी कंपनियों का भारत आने से भारत के अर्थव्यवस्था के लिए यह बहुत ही अच्छी बात होगी इसके साथ ही अर्थव्यवस्था को संभालने में भी इसका बहुत महत्वपूर्ण योगदान होगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: