भारत के इस बड़े शहर में 19 जून से लागू होगा लॉकडाउन

देशभर में कोरोना महावारी रुकने का नाम नहीं ले रही। दिन-ब-दिन आंकड़ों में वृद्धि होती ही जा रहे हैं। भारत के 70 से 80 फ़ीसदी कोरोना के मामले देश के बड़े शहरों में ही पाए गए हैं। केंद्र और राज्य सरकार ने देश की आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाने के लिए 8 जून से धीरे-धीरे लॉकडाउन में रियायत देने की शुरुआत की थी। अनलॉक की स्थिति में कोरोना के मामलों में और तेजी से वृद्धि हुई है।

The Gazette Today India - भारत के इस बड़े शहर में 19 जून से लागू होगा लॉकडाउन
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री, के. पलानिस्वामी

लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानिस्वामी ने चेन्नई, तिरुवल्लुर, चैंगलपट्टू और कांचीपुरम् में 19 जून से संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है। यह लॉकडाउन 19 जून से 30 जून से चेन्नई शहर और इन तीन जिलों में लागू रहेगा। 19 जून से लागू होने वाले इस लॉकडाउन में आवश्यक सेवाओं के लिए कुछ रियायत दी गई है, जिसके लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

The Gazette Today India - भारत के इस बड़े शहर में 19 जून से लागू होगा लॉकडाउन
चेन्नई शहर

19 जून से लागू होने वाले लॉकडाउन के नियम

– राशन की दुकान, सब्जी बाजार, मोबाइल फ़ोन की दुकानों को सुबह 6:00 बजे से दोपहर के 2:00 बजे तक खोलने की इजाजत होगी।

– पेट्रोल पंप सुबह 6:00 बजे से शाम के 4:00 बजे तक खुले रहेंगे।

– होटल और रेस्तरां से सुबह 6:00 बजे से रात के 8:00 बजे तक केवल खाने के पार्सल लेने की इजाजत होगी।

– लोगों को अपनी खुद की गाड़ी से घर के 2 किलोमीटर के दायरे में सफर करने की इजाजत दी गई है।

– आवश्यक सेवाओं और आपातकाल की स्थिति में एंबुलेंस को ही छूट दी जाएगी।

– बैंक केवल 29 और 30 जून को खुलेंगे।

– शादी समारोह, शोक सभा और आपातकालीन स्थिति में सरकार द्वारा ई-पास उपलब्ध कराया जाएगा

– सामूहिक रसोइयों (कम्युनिटी किचन) को खोलने की इजाजत दी गई है।

The Gazette Today India - भारत के इस बड़े शहर में 19 जून से लागू होगा लॉकडाउन
प्रतीकात्मक फोटो

देश में महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा कोरोना के मामले तमिलनाडु में पाए गए हैं जिसमें से 70% से भी अधिक कोरोना के मामले केवल चेन्नई शहर और उसके आसपास के उपनगरीय इलाकों में हैं। रविवार को चेन्नई शहर में 1,415 नए मामले सामने आए हैं। तमिलनाडु राज्य में कोरोना का आंकड़ा अब 44,661 तक पहुंच चुका है। जिसमें से अब तक 435 लोग अपनी जान गवां चुके हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: