उज्जैन पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी हिस्ट्रीशीटर के बारे में जानकारी

कानपुर पुलिसकर्मियों के हत्यारे विकास दुबे को लेकर मध्य प्रदेश की उज्जैन पुलिस ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उज्जैन के एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मोस्टवांटेड अपराधी विकास दुबे को आज हमने गिरफ्तार किया है. हमने विकास दुबे से 8 घंटे पूछताछ की. उसे यूपी एसटीएफ को सौंप दिया गया.

आगे उन्होंने कहा कि विकास दुबे कानपुर का रहने वाला है. विकास दुबे को लेकर पूरे देश में अलर्ट था. और दो दिन पहले मैंने पुलिस कंट्रोल रूम में बैठकर सबको अलर्ट किया था.

जानें कैसे पकड़ में आया हिस्ट्रीशीटर

एसपी मनोज सिंह ने विकास दुबे की गिरफ्तारी की जानकारी दी. एसपी ने कहा कि उज्जैन में गुंडा विरोधी अभियान चल रहा है. हमने जून में 100 गुंडों के खिलाफ कार्रवाई की है. बाहर से जो भी गुंडे आ रहे हैं हम तलाशी कर रहे हैं. मनोज सिंह ने कहा कि आज विकास दुबे महाकाल मंदिर में दर्शन करने पहुंचा, वहां राजेश माली के दुकान पर वह फूल-प्रसाद लेने पहुंचा. क्योंकि टीवी पर चल रहा था तो उसके चेहरे से माली अवगत था.

मनोज सिंह ने बताया कि माली ने महाकाल परिसर में प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के गार्ड राहुल और धर्मेंद को फोन किया. विकास दुबे ने दर्शन के लिए 250 रुपये का टिकट भी लिया. हम लोग महाकाल बाबा के दर्शन के लिए ऑनलाइन पूरी व्यवस्था किए हैं. ऑनलाइन पास बनवाने के बाद ही कोई अंदर जाता है और वीआईपी दर्शन के लिए अलग से व्यवस्था है. और उसी व्यवस्था के तहत उसने 250 रुपये का टिकट लिया.

एसपी मनोज सिंह ने कहा कि इसके बाद प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के गार्ड्स ने महाकाल परिसर थाने को जानकारी दी. दर्शन करने के बाद जैसे ही विकास दुबे बाहर आया तो गार्ड्स ने उससे उसका नाम पूछा. विकास दुबे ने अपना नाम गलत बताया. जब गार्ड्स को शक हुआ तो उन्होंने गंभीरता से विकास दुबे से पूछताछ की. बाद में उसने बताया कि वो विकास दुबे है. इसके बाद उसको थाने ले जाया गया. वरिष्ठ अधिकारी भी थाने पहुंचे और उसे गंभीर पूछताछ हुई.

Leave a Reply

%d bloggers like this: