भारत के पास आएगी सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता, 2022 में मिलेगा मौका

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य चुने जाने के बाद अब भारत इसकी अगले वर्ष अगस्त में अध्यक्षता करेगा। भारत को वर्ष 2022 में भी एक माह के लिए सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता करने का मौका मिलेगा। भारत गत बुधवार को इस 15 सदस्यीय संस्था का दो साल के लिए अस्थायी सदस्य चुना गया था।

सुरक्षा परिषद में अंग्रेजी वर्णमाला के आधार पर सभी सदस्यों को बारी-बारी से एक-एक माह के लिए अध्यक्षता का जिम्मा मिलता है।

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता के दफ्तर की ओर से जारी बयान के अनुसार, भारत अगले साल अगस्त में परिषद की अध्यक्षता का जिम्मा संभालेगा।

भारत को यह जिम्मा वर्ष 2022 में भी किसी एक महीने के लिए मिलेगा। भारत, नार्वे, आयरलैंड, मेक्सिको और केन्या बुधवार को सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के तौर पर चुने गए थे। इनका कार्यकाल एक जनवरी, 2021 से प्रारंभ होगा।

संयुक्त राष्ट्र के 192 सदस्य देशों में से 184 सदस्यों ने भारत के पक्ष में वोट दिया था। भारत एशिया प्रशांत क्षेत्र की ओर से अस्थायी सदस्य के लिए एकमात्र उम्मीदवार था। इसलिए इसकी जीत को लेकर कोई भी शंका नहीं था। भारत पहले भी सात पर सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य रह चुका है।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने प्रसन्नता जताते हुए बताया कि सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के लिए हुए चुनाव में भारत को भारी समर्थन मिला है। त्रिमूर्ति ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौर में सुरक्षा परिषद में हमारा चुना जाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन और वैश्विक नेतृत्व को प्रेरित करता है। विदेश मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर ने भारत की इस जीत पर शुभकामना संदेश देते हुए ट्वीट किया- संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन व विदेश मंत्रालय को अच्छे कामों के लिए बधाई।

Leave a Reply

%d bloggers like this: